14 जुलाई से 17 सितम्बर तक सम्पूर्ण उत्तराखण्ड में 4 दिवसीय वृहद वृक्षारोपण अभियान चलाया जाएगा।

5 हज़ार पेड़ रोपेगा संस्कार परिवार देवभूमि।
Advertisement

Newsupdatebharat/ Report Yogendra Singh Negi Nainital

हल्द्वानी –  हरेला पर्व के पावन अवसर पर घर-घर योग हर घर योग अभियान संस्कार परिवार देवभूमि ट्रस्ट एवं हरित वन क्रान्ति अभियान द्वारा हरेला पर्व के पावन अवसर पर 14 जुलाई से 17 सितम्बर तक सम्पूर्ण उत्तराखण्ड में 4 दिवसीय वृहद वृक्षारोपण अभियान चलाया जा रहा है।

 

5 हज़ार पेड़ रोपेगा संस्कार परिवार देवभूमि।

 

इस कड़ी में नैनीताल जिले के विकास खण्ड धारी के न्याय पंचायत मज्यूली (पहाडपानी के नवरत्न ग्रामों मनाघेर, दीनी तल्ली, दीनी मल्ली महतोलिया गाँव मज्यूली, सेलालेख, जलना नील पहाड़ी, सकदीना, अर्नपा के साथ विकास खण्ड ओखला काँड़ा के ग्राम नाई में 14 जुलाई से 17 जुलाई तक लगभग 3 हजार फलदार और औषधीय पेड़ों का रोपण एवं वितरण किया जायेगा साथ ही लोगों को पहले से लगाये गये वृक्षों के उचित रख-रखाव के लिए भी प्रेरित किया जायेगा।

18 जुलाई को उद्योग विभाग हल्द्वानी (नैनीताल) के सहयोग से स्वरोजगार प्रोत्साहन हेतु एक शिविर का आयोजन पंचायत घर पहाड़ पानी में किया जा रहा है ताकि लोगों को केन्द्र एवं उत्तराखण्ड सरकार की विभिन्न स्वरोजगार प्रोत्साहन योजनाओं की जानकारी मिल सके। साथ ही सगन्ध पाँध प्रोत्साहन योजना के अन्तर्गत पहाड़पानी क्षेत्र को गुलाब के कलस्टर के रूप में विकसित करने की योजना बनाई जा रही है।

अध्यात्मिक गुरु आचार्य विपिन जोशी ने बताया उन्होंने उत्तराखण्ड के गाँवों को योग और आयुर्वेद ग्राम के रूप में विकसित करने के लिए एक अभियान चलाया है। कुमाऊँ में न्याय पंचायत मज्यूली (पहाड़पानी) के 9 गाँवों को योग और आयुर्वेद ग्राम के रूप में विकसित करने का प्रयास विगत वर्ष से आरम्भ किया गया है। इन गाँवों को देवभूमि दिव्यग्राम (Dev Bhoomi Divine Village) के रूप में विकसित किया जायेगा। योग, आर्युवेद, प्राकृतिक चिकित्सा के साथ-साथ जैविक खेती, बागवानी, जड़ी-बूटी उत्पादन, पुष्प उत्पादन, गौ-पालन के साथ-साथ स्थानीय संसाधनों पर आधारित लघु उद्योगों को स्थापित किया जायेगा। स्थानीय शिल्प बोली-भाषा, वेश-भूषा, संस्कृति संस्कारों के संरक्षण और संवर्धन का काम किया जायेगा इन गाँवों में सम्पूर्ण विश्व से लोग आकर स्वास्थ्य लाभ प्राप्त करेगें साथ ही स्थानीय लोगों को स्वरोजगार प्राप्त होगा पलायन रूकेगा स्वास्थ्य शिक्षा का भी विकास होगा।

इस अभियान में इफ्को (IFFCO) उत्तराखण्ड एंव उद्यान विभाग द्वारा पौधे उपलब्ध कराये जा रहे हैं। वृक्षारोपण अभियान के संयोजक पर्यावरण प्रेमी चन्दन सिंह नयाल अभी तक 48 हजार पेड़ लगाने के साथ-साथ 500 से अधिक चाल, खाल, खन्तियाँ, पोखर बना चुके हैं 400 से अधिक स्कूलों में पर्यावरण संरक्षण की जानकारी देने के साथ ही 200 से भी अधिक गाँव में पर्यावरण संरक्षण का सन्देश दे चुके हैं। पत्रकार वार्ता में इफ्को (IFFCO) के क्षेत्रिय अधिकारी जनपद नैनीताल दीपक आर्य उपस्थित रहे।

Spread the love
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *