Connect with us

भारत

विदेशी आलू और प्याज पहुंचेगा आपके किचन तक

 रिर्पोट-  राहुल सिंह दरम्वाल /
  हर घर की रसोई में सबसे पहले आलू और प्याज सबसे ज्यादा  पाया जाता है और हर घर में सबसे   इस्तेमाल किए जाने वाला आलू और प्याज की खपत देश में लगातार बढ़ रही है ऐसे में इस वक्त देश में आलू और प्याज की पैदावार कम होने के कारण आलू और प्याज के रेट में लगातार बढ़ोतरी देखी जा रही है लगातार बढ़ रहे आलू और प्याज के दाम को लेकर केंद्र सरकार खासी चिंतित दिखाई दे रही है ऐसे में केंद्र सरकार ने एक बड़ा फैसला लिया है और अन्य देशों से आलू और प्याज भारी मात्रा में हमारे देश में मंगाने का फैसला लिया है  इस वक्त अधिकतर मंडियों में आलू और प्याज 50 से ₹60 किलो बिक रहा है हालांकि कहीं 5 से ₹10 की बढ़ोतरी और कहीं कमी देखी जा रही है लेकिन अधिकतर मंडियों में आलू और प्याज की कीमतें लगातार आसमान छू रही है जो आलू और प्याज  10 रूपये और ₹20 रूपये  किलो बिका करता था वही आज 60 रुपए तक पहुंच गया है

लगातार बढ़ रही आलू और प्याज की महंगाई और बढ़ते रेट को लेकर केंद्रीय उपभोक्ता व खाद्य मंत्री पीयूष गोयल ने  कहा कि  जल्द भारी मात्रा में विदेश से प्याज आने की उम्मीद है सरकार 30  हजार  टन आलू भी मंगाने जा रही है जिसके बाद देश में आलू और प्याज की कीमतों में कमी देखने को मिलेगी वही 25000 टन प्याज की खेप आने की उम्मीद जताई जा रही है उन्होंने आलू की कीमत भी पिछले तीन-चार दिनों में लगातार बढ़ रही है वहीं सरकार 31 जनवरी 2021 तक 10 लाख टन आलू देश में लाने की तैयारी कर रही है ताकि दाम में कमी आ सके

 इतनी अधिक मात्रा में बाहरी देशों से आलू और प्याज मंगाने का मुख्य कारण है कि  देश की जनता को आलू ,प्याज कम दरों पर उपलब्ध हो जाए क्योंकि देश में लगातार आलू और प्याज के दामों में बढ़ोतरी के चलते केंद्र सरकार ने यह फैसला लिया है और लगातार इस को लेकर के कार्य कर रही है सरकार का मानना है कि बाहरी देशों से आलू, प्याज भारत में लाकर यहां के लोगों को कुछ राहत मिलने की उम्मीद भारत सरकार ने जताई है

 

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

More in भारत

उत्तराखण्ड

उत्तराखण्ड

हल्द्वानी

हल्द्वानी

Trending News

Like Our Facebook Page