Connect with us

उत्तराखंड

हुआ ऐसा चमत्कार कि 18 यात्रियों की बच गई जान, बड़ा हादसा होने से टल गया।

सल्ट  – उत्तराखण्ड एक पहाड़ी राज्य है, यहां आए दिन हादसों, सड़क दुर्घटना की खबरें आती रहती है। जहां सडक़ दुर्घटना में कई जाने हर महीने होती है। लेकिन ऐसे जोखिम से भरे हादसों से बच जाए कोई तो वह किसी चमत्कार से कम नहीं है। ऐसा ही एक हादसा मानिला के डोटियाल क्षेत्र में हुआ। जहां अचानक बस का पट्टा टूट गया और यात्रियों से भरी बस खाई में गिर गई। बस खाई में गिरते ही यात्रियों की चीख-पुकार मच गई। लेकिन ऐसा चमत्कार हुआ कि बस में बैठे सभी 18 यात्री सकुशल बच गये। किसी को कुछ नहीं हुआ। चीख पुकार सुनते ही ग्रामीण घटनास्थल पर पहुंचकर  सभी यात्रियों को बस से बाहर निकाला। यात्रियों ने भगवान का शुक्रिया अदा किया। उनके लिए यह एक चमत्कार ही था जो जान जाने से बच गई।
जानकारी के अनुसार सोमवार सुबह रामनगर से सराइखेत के लिए रवाना हुई। इसमें 18 यात्री बैठे थे। मरचूला के पास डोटियाल मौलेखाल सराइखेत मार्ग पर चलती बस का अचानक से कमानी पट्टा टूट गया। पट्टे के टूटने से चालक का वाहन पर से संतुलन बिगड़ गया। ऐसे में बस हिचकोले खाती हुई सडक़ किनारे बने पैराफिट को तोड़ती हुई सीधे खाई की ओर जा गिरी। करीब 40 मीटर गहरी खाई  गिरने से पहले ही बस चीड़ के पेड़ से अटक गई और खाई में गिरने से बच गई। बस में खाई में गिरते देख बस में बैठे यात्रियों की चीखपुकार मच गई।
इस बस हादसे की खबर लगते ही लोग घरों और दुकानों से घटनास्थल की ओर भागे और बस में फंसे यात्रियों को बचाया। इस दौरान बारिश भी हो रही थी मगर स्थानीय लोगों ने अपनी जान की परवाह किये बिना बस से यात्रियों को सकुशल बाहर निकाला। सूचना पर 108 भी घटनास्थल पर पहुंची। मामूली चोटिल हुए यात्रियों को उनके गंतव्य के लिए भेज दिया गया।
 इस विषय में थानाध्यक्ष सल्ट गोविंद सिंह मेहता ने बताया कि डोटियाल चौराहा से कुछ दूरी पर बस दुर्घटनाग्रस्त हो गई थी। बस का कमानी पट्टा टूटने से हादसा हुआ। सूचना मिलते ही पुलिस कर्मी मौके पर पहुंच गए थे। सभी यात्रियों को सकुशल उनके घरों को भेज दिया गया है। फिलहाल बड़ा हादसा होने से बच गया।
Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

More in उत्तराखंड

Trending News

Like Our Facebook Page