हिमांचल में मूसलाधार बारिश, मैक्लोडगंज में फटा बादल।

Advertisement
Newsupdatebharat /Report News Sources
Himanchal – हिमांचल प्रदेश के कई जिलों में सोमवार को हुई मूसलाधार बारिश ने भारी तबाही मचाई है। धर्मशाला के मैक्लोडगंज में बादल फटने से मैक्लोडगंज के भागसूनाग नाले में उफान आया और बाढ के पानी का तेज बहाव सड़को में आया। बादल फटने से कांगड़ा जिले में जगह-जगह बाढ़ का मंजर।
जिससे पार्किंग और सड़को में खड़ी गाड़ियां बह गईं। कई गाड़ियां क्षतिग्रस्त हो गई हैं। ऐसा तबाही का मंजर देखकर लोगों में दहशत का माहौल है।  होटलों में घुसा पानी, घर हुए पानी से लबालब। बाढ की वजह से तीन मंजिला इमारत गिरी। बचाव कार्य भी बाढ की वजह से हुआ अवरूद्ध। जिले कुल्लू में मानसून की पहली मूसलाधार बारिश हुई है। सोमवार तड़के से हो रही भारी बारिश से जिले का जनजीवन पूरी तरह से अस्त-व्यस्त हो गया है। लोगो में भय का माहौल भी बना है।
वही मूसलाधार बारिश होने से पागलनाला में बाढ़ आ गई है। जिससे औट-लारजी-सैंज मार्ग बंद हो गया। यहां सब्जियों के साथ निगम की बसें व अन्य वाहन फंसे गए हैं। जिला में करीब 15 से अधिक सड़कों पर भूस्खलन होने से आवा-जाही अवरूद्ध हो गया है। वहीं हिमाचल पथ परिवहन निगम की चार बसें फंस गई है।  ब्यास, पार्वती, सरवरी खड्ड सहित जिले के नदी-नाले उफान पर हैं। मानसून की पहली बरसात से ही कुल्लू शहर पानी-पानी हो गया है। सड़क और रास्तों में जगह-जगह पानी के तालाब बन गये हैं। सड़कों में आए पानी के सैलाब से राहगीरों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।
जहां लोगो को बारिश से परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है, वहीं दूसरी ओर बारिश होने से किसानों और बागवानी करने वालों ने राहत की सांस ली है।  बागों और अन्य फसलों के लिए बारिश संजीवनी का काम करेगी।
उपायुक्त आशुतोष गर्ग ने कहा कि मंगलवार तक जिले में मूसलाधार बारिश  को लेकर अलर्ट जारी किया है। ऐसे में लोगों और पर्यटकों से आग्रह किया गया है कि वह नदी नालों के समीप न जाएँ।
Spread the love
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *