Connect with us

उत्तराखंड

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने पतंजलि संस्थान के वैज्ञानिकों को संबोधित किया और पतंजलि उद्यान में पौधा भी रोपा।

Newsupdatebharat Uttarakhand Haridwar Report Jitendra kori 
हरिद्वार  – उत्तरखण्ड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने हरिद्वार भ्रमण के दौरान सबसे पहले पतंजलि योगपीठ का दौरा किया। यहां पहुंचने पर योग गुरु बाबा रामदेव महामंत्री आचार्य बालकृष्ण आदि ने मुख्यमंत्री धामी और उनके साथ आए राज्यसभा सांसद नरेश बंसल, उत्तराखंड के गृहमंत्री धन सिंह रावत और स्वामी यतीश्वरानंद का तिलक लगाकर और माल्यार्पण कर स्वागत किया। पतंजलि अनुसंधान संस्थान में हुए कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने संस्थान के वैज्ञानिकों को संबोधित किया और पतंजलि उद्यान में पौधा भी रोपा।
इस अवसर पर मीडिया से बात करते हुए उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने उत्तराखंड को विश्व की आर्थिक और सांस्कृतिक राजधानी के रूप में विकसित करने के लिए कार्य जल्द शुरू करने की घोषणा की। इसके लिए उन्होंने समाज संत समाज और सरकार सभी के सहयोग से कार्य करने की बात कही है। मुख्यमंत्री ने कहां कि कोरोना की तीसरी लहर के आने की संभावना को देखते हुए उत्तराखंड में सभी तैयारियां कर ली गई है मगर उनकी भगवान से प्रार्थना है कि तीसरी लहर न आए।
योग गुरु बाबा रामदेव ने उत्तराखंड के मुख्यमंत्री की जमकर तारीफ करते हुए उनको उत्तराखंड का सबसे तेजस्वी, युवा, पराक्रमी और योद्धा मुख्यमंत्री बताया और कहा कि मुख्यमंत्री ने उत्तराखंड को आध्यात्मिक राजधानी के रूप में विकसित करने के प्रति जो प्रतिबद्धता दिखाई है वह सपना हमारा भी है और यह सपना साकार होगा और इसके लिए हमें जो सहयोग करना है हम करेंगे ,बाबा ने मुख्यमंत्री को चुनाव को लेकर दिए गए गुरु मंत्र के बारे में पूछे जाने पर कहां की हमारा तो योग ही गुरु मंत्र और योग व कर्म योग सभी सफलता और समृद्धि का आधार है।
उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी का कहना है कि हरिद्वार हमारा आध्यात्मिक क्षेत्र है और नगरी है और मां गंगा का पावन धाम है और हम निकट भविष्य में उत्तराखंड को आर्थिक विकास के साथ-साथ सामाजिक, संत समाज और सरकार के सहयोग से इसको विश्व की आर्थिक और सांस्कृतिक राजधानी के रूप में विकसित करेंगे, जल्दी इसके लिए हम सब काम शुरू करेंगे।
हरिद्वार में जनसंवाद कार्यक्रम है और यहां पर ईएसआई का जो हॉस्पिटल निर्माणाधीन है उसको हम 300 बेड का कर रहे हम लोग उसका निरीक्षण करने वाले है।
रामदेव बाबा से चुनाव को लेकर कोई चर्चा नहीं हुई है। स्वामी का लगातार योग के क्षेत्र में हो या चाहे पतंजलि का इतना बड़ा यहां पर यूनिट काम कर रहा है पूरी दुनिया के लोग यहां पर हर प्रकार से लाभ लेते हैं। रामदेव स्वामी का हम लोगों को हमेशा से मार्गदर्शन मिलता रहा है रामदेव स्वामी आध्यात्मिक क्षेत्र में समाज के क्षेत्र में और संत समाज में हर क्षेत्र में कार्य करते हैं। और उनका मार्गदर्शन हमेशा हम लोगों के लिए प्रेरणादाई रहता है। रामदेव बाबा के पास आने से नई ऊर्जा मिलती है नए उत्साह का मिलता है और नई ऊर्जा के साथ हम लोग कार्य करते हैं।
कोरोना की तीसरी लहर को लेकर स्वामी जी ने आपने देखा होगा कि कोरोनिल दवा लेकर आए थे और तीसरी लहर के लिए हम लोग पूरी तरह से तैयार है और तीसरी लहर भगवान से प्रार्थना करता हूं कि तीसरी लहर न आए और अगर तीसरी लहर आती है। तो उसके लिए हम लोगों ने सारी व्यवस्थाएं की हुई है ।
 योग गुरु स्वामी रामदेव का कहना है कि उत्तराखंड का यह सौभाग्य है कि इसके गठन के बाद सबसे तेजस्वी, युवा, पराक्रमी, एक योद्धा मुख्यमंत्री उत्तराखंड को मिला है इससे हम गौरवान्वित हैं एक सैनिक परिवार से आकर संघर्षों और अभाव में पला हुआ व्यक्ति अंतिम आदमी की पीड़ा को समझता है और जिसके हृदय में इस प्रदेश के आर्थिक और सांस्कृतिक आध्यात्मिक विकास  के लिए पूर्ण प्रतिबद्धता है जैसा कि खुद मुख्यमंत्री धामी ने बोला कि प्रदेश के आर्थिक विकास के साथ-साथ संत समाज और सरकार के सहयोग से उत्तराखंड को विश्व की आध्यात्मिक राजधानी के रूप में विकसित करेंगे यह बहुत बड़ा सपना है और यह साकार होगा, क्योंकि पूरी दुनिया में भारत एक स्प्रिचुअल पावर के रूप में लोगों के लिए एक आदर्श है और खासकर उत्तराखंड और हरिद्वार उसका शिखर है भारत का मुकुट है हिमालय यहां के जल, जंगल, जमीन, जवानी, पानी, जड़ी बूटी उन सब का उपयोग करके यहां हेल्थ एजुकेशन और स्पोर्ट्स से लेकर के अलग-अलग क्षेत्रों में जो दृष्टि मैंने मुख्यमंत्री की देखी है उस पर विश्वास है कि आने वाले समय में उत्तराखंड भारत में हर दृष्टि से नंबर वन प्रांत बने इसके लिए आप अहर्निश पुरुषार्थ कर रहे हैं और उसके लिए इनको आशीर्वाद भी दिया और और जहां जहां भी जिस प्रकार से सहयोग और साथ की आवश्यकता होगी हम देंगे और हमारा भी यही सपना है कि उत्तराखंड का अंतिम व्यक्ति यहां का सामान्य जन यहां का मिडिल क्लास और यहां के जितने भी और अपर क्लास हैं सब एक साथ विकसित हो और पूरी दुनिया का और पूरे भारत का एक आदर्श प्रदेश बने उत्तराखंड इसके लिए हम सब हम सब मिलकर के और पुरुषार्थ करेंगे,
चुनाव को लेकर गुरुमंत्र देने पर हुई चर्चा पर बाबा का कहना है कि हमारा तो योग ही मंत्र है योग और कर्म योगी ही सब सफलता और समृद्धि का आधार है और हमारे मुख्यमंत्री योगी है कर्म योगी हैं और एक दिन भी बिना विश्राम किए 18 से 20 घंटे पुरुषार्थ करते हैं यह सौभाग्य है उस प्रान्त का।
Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

More in उत्तराखंड

उत्तराखण्ड

उत्तराखण्ड

हल्द्वानी

हल्द्वानी

रामनगर

रामनगर

Trending News

Like Our Facebook Page