Connect with us

उत्तराखंड

उत्तराखंड में 24 घंटे भारी बारिश के आसार, एडवाइजरी भी हुई जारी

देहरादून  – उत्तराखंड में मौसम के तेवर तल्ख बने हुए हैं राज्य के कई इलाकों में रात से मूसलाधार बारिश हो रही है। मौसम विज्ञान केंद्र देहरादून ने आज रविवार 25 सितंबर को राज्य के देहरादून, टिहरी, चमोली, बागेश्वर, पिथौरागढ़, रुद्रप्रयाग, उत्तरकाशी जनपदों में कहीं-कहीं भारी से बहुत भारी बारिश का ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। इसके अलावा राज्य के अन्य जनपदों में कहीं-कहीं भारी बारिश की संभावना है।
वहीं भारत मौसम विज्ञान केंद्र द्वारा आज सुबह 6:00 बजे उत्तराखंड के लिए तत्कालीन मौसम पूर्वानुमान जारी कर नैनीताल ऊधमसिंह नगर और चंपावत जनपदों में कहीं-कहीं तीव्र बौछार भारी वर्षा के संभावना जताते हुए ऑरेंज अलर्ट जारी किया है तथा साथी अल्मोड़ा, पिथौरागढ़, बागेश्वर , देहरादून जनपदों में कहीं-कहीं भारी बारिश को लेकर येलो अलर्ट जारी किया है।
चंपावत जिला आपदा परिचालन केन्द्र चंपावत से प्राप्त सूचना अनुसार विगत रात्रि से लगातार हो रही वर्षा के कारण राष्ट्रीय राजमार्ग-9 कई स्थानों में बाधित हो गया है। इसके दृष्टिगत रूट को Divert किया गया है। पुलिस विभाग को भी सूचित किया गया है कि ककरालीगेट तथा बनलेख से वाहनों को सुरक्षा के दृष्टिगत आगे ना छोड़े जाय।
जिलाधिकारी ने सभी विभागों को अलर्ट रहते हुए किसी भी प्रकार की आपदा की घटना होने पर तत्काल रिस्पॉन्स के निर्देश दिए हैं। उन्होंने सभी राजस्व उपनिरीक्षकों(पटवारियों), ग्राम पंचायत व ग्राम विकास अधिकारियों को गांव में जो भवन आपदा की दृष्टि से नुकशान या खतरे की जद में हैं उन घरों के लोगों को सुरक्षित स्थानों में शिफ्ट करने के निर्देश दिए हैं।
जिलाधिकारी ने सड़क निर्माण विभाग के अधिकारियों को बन्द सड़क मार्गों को सुरक्षा बरतते हुए तत्काल खोले जाने के निर्देश दिए। जिलाधिकारी ने आम जनता से भी अपील की है कि वह भारी वर्षा में आवागमन से बचें तथा किसी भी प्रकार की आपदा की घटना पर सूचित करें। जिलाधिकारी ने जिले के मैदानी क्षेत्रों में बाढ़ एवं जल भराव की समस्या के मद्देनजर विशेष सुरक्षा बरते जाने एवं आवश्यक तैयारी के भी निर्देश अधिकारियों को दिए हैं।
राज्य आपातकालीन परिचालन केंद्र ने सभी जिलाधिकारियों को पत्र लिखकर मौसम विभाग द्वारा प्रदेश में अगले 24 घंटे भारी वर्षा हेतु चेतावनी के दृष्टिगत सावधानी बरतने हेतु पत्र लिखा गया है।
मौसम विभाग ने संवेदनशील इलाकों में हल्का से मध्य भूस्खलन चट्टान गिरने के कारण मार्ग अवरुद्ध होने की संभावना जताई है साथ ही कहा है कि पहाड़ी क्षेत्र में नदी नालों और नदियों का जलस्तर में अचानक वृद्धि हो सकती है तथा बिजली गिरने की संभावना से जानमाल का नुकसान भी हो सकता है मौसम विभाग ने इसको लेकर एडवाइजरी जारी करते हुए नदी नालों के पास रहने वाले लोगों को सावधानी बरतने के साथ सुरक्षित स्थान पर रहने की जरूरत बताई साथ ही पर्वतीय क्षेत्र में यात्रा के दौरान सावधानी बरतने तथा बिजली की गर्जन को देखते हुए बिजली से संचालित वस्तुओं से दूर रहने की भी बात कही है।
Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

More in उत्तराखंड

उत्तराखण्ड

उत्तराखण्ड

हल्द्वानी

हल्द्वानी

रामनगर

रामनगर

Trending News

Like Our Facebook Page