परिवहन विभाग के आरआई लूट कांड की जांच करेगी विजिलेंस

Advertisement

रिपोर्ट-प्रवेश राणा/

काफी समय पहले प्रसिद्ध अभिमन्यु क्रिकेट अकेडमी के घर डकैती की घटना हुयी थी जिसका दून पुलिस ने जल्द खुलासा किया और डकैती करने वाले आरोपियों को गिरप्तार किया था पर जब आरोपियों से पूछताछ की गयी तो उन्होंने राजधानी देहरादून में ही एक और बड़ी चोरी करने की बाद कबूल की.ये चोरी परिवहन विभाग के आरआई के घर में की गयी थी और जिसमे उन्होंने एक करोड़ 38 लाख की लूट की थी पर इस चोरी का पुलिस में कहीं भी शिकायत नहीं की गयी इस कबूलनामे के बाद परिवहन विभाग के उस अधिकारी पर भी सवाल खड़े हो गये कि आखिर उन्होंने इस चोरी की सुचना पुलिस को क्यों नहीं दी और इतना पैसा आखिर उनके पास कहाँ से आया। उसके बाद पुलिस की पूछताछ के बाद अधिकारी ने बात कबूल की थी और पुलिस अभी तक इसकी जांच कर रही थी लेकिन अब परिवहन विभाग के संभागीय निरीक्षक (आरआई) के घर हुई डक़ैती मामले में अब जांच विजिलेंस कर सकती है,,, देहरादून पुलिस ने पुलिस मुख्यालय को पत्र लिख मामले की जांच विजिलेंस से कराने की बात कही है।

अभिमन्यु क्रिकेट ऐकेडमी के मालिक आरपी ईश्वरन के घर पड़ी डकैती का पुलिस ने जब एक अक्टूबर को पर्दाफाश किया था तो डकैतों ने कई सनसनीखेज रहस्यों को उजागर किया था डकैतों ने बयान दिया कि इससे पहले उन सभी ने 26 मई की रात वसंत विहार के विजय पार्क कॉलोनी में परिवहन विभाग के आरआइ के घर 1 करोड़ 38 लाख की डकैती डाली थी। लेकिन आरआई के द्धारा इस घटना की पुलिस को जानकारी ही नहीं दी गई थी।पुलिस द्धारा पूछने के बाद छह अक्टूबर को आरआइ की पत्नी रमा सिंघल ने वसंत विहार पुलिस को तहरीर दी, लेकिन उनका कहना था कि उनके यहां से पांच लाख रुपये कैश और करीब बीस लाख रुपये की ज्वैलरी लूटी गई है।

वहीं मामले की जांच में पत्नी द्धारा लूट की राशि और डक़ैतों द्धारा बताई गई राशि में भिन्नता सामने आई है, ऐसे में मामला आय से अधिक सम्पत्ति से भी जुड़ा होना प्रतीत हो रहा है,,, क्योंकि आखिर इतनी बड़ी डक़ैती के बाद भी आरआई द्धारा पुलिस को जानकारी क्यों नहीं दी गई,,,, जिसको देखते हुए देहरादून पुलिस ने आरआई डक़ैती मामले में विजिलेंस से जांच करने के लिए पुलिस मुख्यालय को पत्र लिखा है।

Spread the love
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *