Connect with us

उत्तराखंड

सोमवार को हुई सुमित की मौत के बाद परिवार ने शव को थाने के बाहर रखकर हंगामा किया।

Newsupdatebharat Uttarakhand Pithoragarh Report Manoj Chand
पिथौरागढ़  – सोमवार को पिथौरागढ़ में हुई युवक की मौत पर मंगलवार को जमकर हंगामा हुआ। युवक के परिजनों ने थाने के बाहर शव को रखकर घंटों रोड को जाम किया। परिजनों का कहना है कि मृतक सुमित की मौत नहीं हुई है उसकी हत्या की गई है। परिजनों ने सुमित की पत्नी पर हत्या का आरोप लगाया है। गुस्साए परिजनों ने मामला दर्ज होने के बाद शव को उठाया। वहीं पुलिस का कहना है कि पूरे मामले की गंभीरता से जांच की जा रही है। सीसीटीवी फुटेज खंगाले जा रहे हैं।
जगतड़ निवासी सुमित नगर के एक निजी अस्पताल में कैंटीन का काम करता था। जिसका शव संदिग्ध हालात में कमरे में पड़ा मिला। युवक के हाथ की नसें तीन जगह कटी थीं। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुँची थी। और पुलिस ने पोस्टमार्टम करने के बाद शव परिजनों को सौंप दिया है। पुलिस प्रथम दृष्टया आत्महत्या का मामला बता रही है।
सीओ आरएस रौतेला ने बताया प्रथम दृष्टया मामला आत्महत्या का लग रहा है। सुमित की गर्भवती पत्नी महिला अस्पताल में भर्ती थी, जिसे उसने एक दिन पूर्व जबरन डिस्चार्ज करवाया था। पूछताछ में पता चला है कि वह अपनी पत्नी को भी मारने की फिराक में था लेकिन उसकी पत्नी उससे बचकर बाथरूम में चली गई और रात भर भीतर से कुंडी लगाकर अंदर ही रही। सुबह जब वो बाहर आई तो पूरा कमरा खून से सना था। इसके बाद किसी रिश्तेदार के वहां जाकर इसकी सूचना दी। कोतवाल प्रभात कुमार ने बताया शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। मामले की जांच की जा रही है। इस हादसे के बाद मृतक की गर्भवती पत्नी मनीषा गहरे सदमे में है। मनीषा का मायका बागेश्वर के बैजनाथ क्षेत्र के चौरसू गांव में है। मायके से उसकी मां और अन्य रिश्तेदार भी पिथौरागढ़ पहुंच गए हैं।
Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

More in उत्तराखंड

उत्तराखण्ड

उत्तराखण्ड

हल्द्वानी

हल्द्वानी