Connect with us

उत्तराखंड

दीक्षा मिश्रा हत्याकांड के आरोपी को पुलिस ने न्यायालय के समक्ष पेश कर जेल भेजा।

Newsupdatebharat Uttarakhand nainital Report Seema Nath
नैनीताल– नगर में बीते सोमवार को हुए दीक्षा मिश्रा हत्याकांड में फरार चल रहे आरोपी को आखिरकार पुलिस ने देर शाम धर दबोचा। पुलिस पूछताछ के दौरान आरोपी ने हत्या का जुर्म कबूल कर लिया है। उसने बताया की जन्मदिन पार्टी की देर रात उसने ही आवेश में आकर अपनी प्रेमिका की गला दबा कर हत्या की थी।
पुलिस ने आरोपी को न्यायालय के समक्ष पेश कर जेल भेज दिया है।
गौरतलब हो कि  14 अगस्त को होरीजन होम्स शाहबेरी नोएडा एक्सटेंशन गौतम बुद्धनगर  दीक्षा मिश्रा अपने साथ लिव इन रिलेशनशिप में रह रहे प्रेमी ऋषभ उर्फ इमरान व अन्य दो साथियों के साथ नैनीताल घूमने आई थी जहा पर 15 अगस्त को जन्मदिन की पार्टी के बाद दीक्षा के प्रेमी ने उसकी गला दबाकर हत्या की ओर मौके से फरार हो गया। जिस पर दीक्षा की दोस्त श्वेता ने ऋषभ के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कराया था।
 जहां पर पुलिस ने मंगलवार की देर शाम गाजियाबाद से आरोपी ऋषभ को गिरफ्तार किया। जिस पर बुधवार को मल्लीताल कोतवाली में एसपी देवेन्द्र पींचा ने प्रेसवार्ता कर घटना का खुलासा करते हुए बताया की आरोपी ने  पूछताछ के दौरान पुलिस को बताया की दोनों बीते एक वर्ष से लिव इन रिलेशनशिप में रह रहे थे। दीक्षा को उसके इमरान होने की पूरी जानकारी थी दीक्षा ने ही इमरान की असल पहचान लोगों व परिजनों से छुपाई थी। उसने बताया की लगभग दो महीने से दीक्षा और उसकी अनबन चल रही थी और वह दीक्षा से पीछा छुड़ाना चाहता था। वहीं दीक्षा के जन्मदिन की पार्टी की रात भी दोनो की आपस में किसी बात को लेकर कहासुनी हुई और कहासुनी बढ़ते बढ़ते हाथापाई व धक्का मुक्की में बदल गई। धक्का लगने से दीक्षा का सर बेड के कोने से जा टकराया और इस दौरान उसने आवेश में आकर दीक्षा की गला दबाकर हत्या कर दी और मौके से फरार हो गया।
 वहीं एसपी देवेन्द्र पींचा ने बताया की हत्यारोपी ऋषभ उर्फ इमरान पुत्र इत्वेजामुद्दीन निवासी होरीजन होम्स शाहबेरी नोएडा एक्सटेंशन गौतम बुद्धनगर को जिला गाजियाबाद थाना सिहानी गेट क्षेत्र के सिक रोड श्री साई मेडिकोज से गिरफ्तार कर नैनीताल लाया गया जहां पर उसे न्यायालय के समक्ष पेश किया गया। साथ ही चारों दोस्तो ने रामनगर व नैनीताल दोनों ही जगह होटल में कमरा बुक करवाने के दौरान  उन्होनें सिर्फ दो ही आईडी लगाई थी। जिसपर रामनगर रिजॉर्ट व नैनीताल के होटल पर बिना आईडी के कमरा देने पर कानूनी कार्रवाई की जायेगी।
इस दौरान गिरफ्तारी टीम में नितिन बहुगुणा, जगपाल सिंह, त्रिलोक सिंह व कुंदन सिंह रहे।
Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

More in उत्तराखंड

उत्तराखण्ड

उत्तराखण्ड

हल्द्वानी

हल्द्वानी