Connect with us

उत्तराखंड

चतुर्थ श्रेणी के स्वास्थ्य कर्मचारियों ने पूर्व घोषित आंदोलन कार्यक्रम के तहत 15 वें दिवस भी बिना अन्न ग्रहण किए अपनी ड्यूटी कर विरोध जताया।।

Newsupdatebharat Uttarakhand Haridwar Report Jitendra kori
हरिद्वार  –  चतुर्थ श्रेणी राज्य कर्मचारी संघ चिकित्सा स्वास्थ्य सेवाएँ उत्तराखंड के पूर्व घोषित आंदोलन कार्यक्रम के तहत 15 वें दिवस कर्मचारियों ने बिना अन्न ग्रहण किये ड्यूटी करते हुए अपना विरोध प्रकट किया।  कर्मचारियों में महानिदेशालय और आयुर्वेद विश्वविद्यालय के प्रति आक्रोश देखने को मिला 16 अगस्त से आंदोलन को गति देते हुए गेट मीटिंग कर जनजागरण किया जाएगा और मुख्य चिकित्सा अधिकारी और प्रमुख अधीक्षक, परिसर निदेशक के माध्यम से ज्ञापन भेजा जाएगा।
प्रदेश अध्यक्ष दिनेश लखेड़ा प्रदेश उपाध्यक्ष नेलसन अरोड़ा, गुरुप्रसाद गोदियाल मंगल लाल आर्य, मंडल अध्यक्ष भूपाल सिंह कुमाऊं मंडल अध्यक्ष गढ़वाल राजेन्द्र रावत ने कहा कि आंदोलन करते हुए एक माह हो गया है किंतु अधिकारियों को कोई फर्क नहीं पड़ता। प्रदेश के मुख्यमंत्री और  स्वास्थ्य मंत्री का समय भी नहीं मिल पा रहा है। जैसे समय मिलता है वैसे ही अधिकारियों की कारगुजारियों से मुख्यमंत्री और स्वास्थ्य मंत्री को अवगत कराया जाएगा। यह आंदोलन तो अब शासन प्रस्ताव जाने के बाद ही रुकेगा।
प्रदेश प्रवक्ता शिवनारायण सिंह  संगठन सचिव विनोद गौड़, दिनेश गुसाईं, विपिन नेगी, जिलामन्त्री देहरादून त्रिभुवन पाल, जिलामंन्त्री हरिद्वार राकेश भँवर ने कहा कि आयुर्वेद विश्वविद्यालय राजकीय कर्मचारियों को स्वायत्तसाशी संस्था में डालकर उनका उत्पीड़न किया जा रहा है। कर्मचारियों की पदोन्नति को वर्षो बीत गए अनुरोध करने के बाद भी कुछ नहीं हो रहा है।
 सरकार और शासन के आदेश भी मायने नहीं रखते हैं।गुरुकुल और ऋषिकुल के कर्मचारियों को तीन वर्ष अधिक होने के बाद भी ए सी पी नहीं लगाई गई है। सेवानिवृत्त कर्मचारियों हैं उनका तो और भी बुरा हाल है। पेंसन, बीमा, जी पी एफ का भुगतान 2-2 साल से रुका हुआ है। हम कर्मचारियों की कोई सुनने वाला नहीं है। मुख्यमंत्री और माननीय स्वास्थ्य मंत्री से अनुरोध है कि कृपया वह इस विषय पर हस्तक्षेप करें नहीं तो कोई कर्मचारी क्रमिक अनशन और आमरण अनशन में हताहत होता है तो उसका समस्त उत्तरदायित्व विभागाध्यक्ष का होगा।
अन्न ग्रहण न करने वालों में शिवनारायण सिंह, जयनारायण सिंह, दिनेश लखेड़ा, नेलसन अरोड़ा, गुरुप्रसाद गोदियाल, नवीन, विपिन नेगी, सुरेंद्र कश्यप, दिनेश गुसाईं, राकेश कुमार, दिनेश ठाकुर, मोहित मनोचा, छत्रपाल सिंह,नितिन, दीपक, राजपाल सिंह, राकेश भँवर, भूपाल सिंह, ललित शाह,सुमंत पाल, पूनम, मुन्नी देवी, ममता चंद,अजय रानी, रजनी, संदीप शर्मा, मुकेश, सुरेश चंद्र, मूलचंद चौधरी, शीशपाल, महेश कुमार इत्यादि ने विरोद प्रदर्शित किया
Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

More in उत्तराखंड

उत्तराखण्ड

उत्तराखण्ड

हल्द्वानी

हल्द्वानी