Connect with us
Ad

उत्तराखंड

ऑनलाइन शॉपिंग के नाम पर ठगी करने वाले गैंग के तीन सदस्यों नैनीताल पुलिस ने दिल्ली से किया गिरफ्तार।

 

Newsupdatebharat Uttarakhand Haldwani Report Rahul Singh Darmwal

 

हल्द्वानी–जिले में इन दिनों साइबर अपराध तेजी से अपने पैर पसार रहा हैं। जिसके तहत नैनीताल पुलिस को बडी सफलता मिली है। पुलिस ने ऑन लाइन शॉपिगं के नाम पर साईबर बैंक फ्रॉड करने वाले अर्न्तराज्यीय गैंग के तीन सदस्यों को गिरफ्तार किया हैं। आरोपियों के खिलाफ धारा 420 धारा 66डी आर0टी0 एक्ट के तहत मुकदमा पंजीकृत किया गया है।
जानकारी के मुताबिक बीते माह आनंदपुरी फेस.3 निवासी अंकित शाह के ने मुखानी थाने में तहरीर देते हुए बताया था की उसे एक अज्ञात नम्बर से कॉल आई थी। जिसमे अज्ञात व्यक्ति द्वारा उसे बताया गया कि उनकी नई कम्पनी लॉन्च हुई है और कम्पनी ने उनका नम्बर सलेक्ट किया है। कहा कि वह उनकी कम्पनी का एक प्रोडक्ट सलेक्ट कर रजिस्ट्रेशन करा लें।

 

जिस पर अंकित ने जैकेट सलेक्ट की जिसकी कीमत एक हजार चार रुपये थी। जिसके बाद अंकित को दोबारा सुनील सक्सेना नामक व्यक्ति का कॉल आया। जिसमें उसने कहा कि उन्हें एक फोन गिफ्ट में दिया जा रहा है जिसको लेने के लिए उन्हें 10 प्रतिशत जीएसटी देनी पड़ेगी जिस पर उसने गूगल पे के माध्यम से यूपीआई नम्बर पर 12390 उसके खाते में डाल दिए। उक्त व्यक्ति द्वारा कहा गया कि यह पैसे उसके खाते में वापस डाल दिए जाएंगे। जब युवक के खाते में न पैसे आए और न मोबाइल व जैकेट मिली तो उसे ठगी का एहसास हुआ जिसके बाद उसने मुखनी थाने में तहरीर देकर कार्रवाई की माग की। जिस पर अपर पुलिस अधीक्षक डॉ. जगदीश चन्द्र व शान्तुन पाराशर क्षेत्राधिकारी ने मुखानी थानाध्यक्ष सुशील कुमार के नेतृत्व में पुलिस टीम का गठन कर मुकदमें में प्रयुक्त मोबाईल नबरों को सॉर्विलॉस पर लगाया जिसपर बीते बुधवार को पुलिस टीम द्वारा साउथ दिल्ली संगम बिहार स्थित कॉल सेन्टर पर छापा मारकर मौके से सुरेश कुमार पुत्र ईश्वर दास निवासी मस्टर मौ. थाना गोन्दिपुरी नई दिल्ली मल निवासी देवगांव राजस्थान , चेतन शर्मा पुत्र गजेन्द्र गौहर निवासी आल्ड फरिदाबाद, नगेन्द्र पुत्र घनश्याम ग्राम दौलताबाद निवासी तीन आरोपियों को ऑन लाइन शॅपिंग साइबर फ्रॉड में प्रयुक्त सामग्री के साथ गिरफ्तार किया गया। इस दौरान पुलिस को आरोपियों के पास से घटना में प्रयुक्त एक मोबाइल व अन्य घटनओं में प्रयुक्त 18 मोबाइल समेत कुल 19 मोबाइल, 2 लेपटॉप कम्पनी डेल,8 सी.पी.यू. मॉनिटर, की बोर्ड, 3 एक्सटेंशन बोर्ड व क्नेक्टिगं वायर बरामद की हैं।

 

पूछताछ में आरोपियों ने बताया की उनके द्वारा समय-समय पर नयी-नयी वेबसाइट बनवाई जाती है। जिसके बाद वह दिल्ली की घनी आबादी वाले क्षेत्रों में फ्लैट किराये में लेकर उसमें कॉल सेन्टर खोलते हैं जहां से कॉल कर ग्राहकों के साथ ठगी की जाती हैं।

इस दौरान गिरफ्तारी टीम में उप निरीक्षक त्रिभुवन जोशी, महेश जोशी व कांस्टेबल प्रदीप पिलखवाल,गिरीश भटट,अशोक रावत, भूपेन्द्र आदि पुलिसकर्मी मौजूद रहें।

Ad
Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

More in उत्तराखंड

उत्तराखण्ड

उत्तराखण्ड

हल्द्वानी

हल्द्वानी

Trending News

Like Our Facebook Page