Connect with us

उत्तराखंड

28 दिसंबर को हुई एक परिवार के 4 लोगों की हत्या का पुलिस ने किया खुलासा।

Newsupdatebharat Uttarakhand Udhamsinghnagar Report Rahul Singh Darmwal
नानकमत्ता- उत्तराखंड के ऊधम सिंह नगर जिले के अंतर्गत नानकमत्ता में 6 दिन पहले ज्वेलर्स और उसके परिवार के तीन सदस्यों की हत्या मामले का पुलिस ने सोमवार को खुलासा कर दिया है। पुलिस ने मृतक ज्वेलर्स के दोस्त और उसके अन्य तीन साथियों को हत्या के आरोप में गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस के बताया कि हत्याकांड को लूटपाट के इरादे से अंजाम दिया गया था। हत्याकांड का खुलासा करने वाली टीम को डीजीपी ने दस हजार व नानकमत्ता विधायक प्रेम सिंह राणा ने ग्यारह हजार का नगद पुरस्कार दिया है।
 ऊधम सिंह नगर जिले के नानकमत्ता थाना क्षेत्र में 29 दिसंबर को नानकमत्ता बाईपास पुल देवी नदी के पास झाड़ियों में दो शव मिली थे। जिनकी शिनाख्त अंकित रस्तोगी और उसके भांजे के रूप में हुई थी। साथ ही अंकित रस्तोगी के घर में उसकी मां और नानी के भी शव मिले थे। एक ही परिवार के 4 लोगों के शव हत्या हो जाने पर पुलिस ने तत्परता दिखाते हुए टीमें गठित कर दी गई।  हत्याकांड के खुलासे हेतु टीमें बनाकर तेजी से जांच शुरू कर दी गई थी।
सोमवार को डीआईजी निलेश आनंद भरने और एसएसपी ऊधमसिंहनगर दिलीप सिंह कुंवर ने हत्याकांड का खुलासा करते हुए जानकारी दी कि मृतक अंकित रस्तोगी के दोस्त रानू रस्तोगी ने अपने तीन साथियों मुकेश वर्मा, राहुल वर्मा निवासी रुद्रपुर और सचिन सक्सेना निवासी खटीमा के साथ मिलकर इस पूरे प्रकरण को लूट के इरादे से अंजाम दिया था। पुलिस ने अभियुक्तों के पास से लूट के 35,000/-  रुपये व वैगनआर कार बरामद की है। जहां पुलिस ने रानू रस्तोगी, मुकेश वर्मा और राहुल वर्मा को गिरफ्तार कर लिया है, वहीं सचिन सक्सेना अभी फरार है। हत्याकांड का खुलासा करने पर स्थानीय विधायक प्रेम सिंह राणा ने पुलिस टीम को 11,000 किसान संगठन ने 5000 साथ ही ग्राम प्रधान संघ ने 5000 की नगद  पुरस्कार दिया। वही डीआईजी कुमाऊं नीलेश आनंद भरने और एसएसपी ने नानक मत्ता पहुँच हत्या कांड का खुलासा किया है।
 घटनाक्रम  के बारे में पुलिस ने बताया की 29 दिसंबर को करीब 13.00 बजे सूचना प्राप्त हुई कि देवा नदी के किनारे ग्राम सिद्धानवदिया के पास 2 शव पड़े हैं इस सूचना पर नानकमत्ता पुलिस मौके पर पहुंची तो देखा कि 2 व्यक्तियों के गले धारदार हथियार से रेत कर व घोप कर निर्मम हत्या कर दी गयी थी उक्त शवों की पहचान करने पर शव अंकित रस्तोगी उर्फ अजय पुत्र  शिवशंकर रस्तोगी निवासी नानकमत्ता उम्र करीब 28 वर्ष व उदित रस्तोगी पुत्र अनिल रस्तोगी निवासी कस्बा शाही जिला बरेली उम्र 21 वर्ष के रूप में हुयी।
 मौके पर जानकारी प्राप्त हुयी कि मृतक अंकित के घर में स्थिति संदिग्ध है जिस पर नानकमत्ता पुलिस मृतक के घर पहुंची तो घर के अन्दर अंकित रस्तोगी की माता आशा देवी पत्नी शिवशंकर रस्तोगी उम्र 55 वर्ष व नानी सन्नो देवी पत्नी स्व0 हजारा सिंह निवासी शाही जिला बरेली उम्र 75 वर्ष के शव बरामद हुये जिनके गले भी धारदार हथियार से रेत कर निर्मम हत्या की गयी थी। उपरोक्त 04 लोगों की निर्मम हत्या की घटना से नानकमत्ता क्षेत्र में दहशत व असुरक्षा का माहौल उत्पन्न हो गया। उक्त घटना के सम्बन्ध मे वादी श्री आदेश कुमार* की तहरीर के आधार पर थाना नानकमत्ता मुकदमा मे FIR NO. 351/2021 U/S, 302/201 IPC बनाम अज्ञात पंजीकृत किया गया। उच्च अधिकारी गण सूचना पाकर तुरन्त मौके पर पहुंचे व डॉग स्क्वॉड टीम व फोरेन्सिक टीम व एस०ओ०जी०/ सर्विलांस टीम व जनपद ऊधम सिंह नगर के समस्त थानों से कुशल अधिकारी गण व कर्मचारी गण को एकत्रित किया गया व  उप महा निरीक्षक कुमाऊं परिक्षेत्र, नैनीताल के आदेश के क्रम में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक जनपद ऊधम सिंह नगर के दिशा निर्देशन में पुलिस अधीक्षक नगर व पुलिस अधीक्षक क्राईम के नेतृत्व में सीसीटीवी फुटेज अवलोकन करने, सुरागरसी पतारसी, पूछताछ करने व सर्विलांस हेतु 20 टीमों का गठन किया गया। मृतक अंकित रस्तोगी के सगे सम्बन्धी व मित्रमण्डली व संदिग्ध व्यक्तियों से गहनता से पूछताछ करते हुए घटनास्थल के आसपास सीसीटीवी फुटेज का अवलोकन व सुरागरसी पतारसी करते हुए कड़ी से कड़ी जोड़ कर सोमवार को पुलिस टीम द्वारा अभियुक्त रानू रस्तोगी, विवेक वर्मा, मुकेश वर्मा उर्फ राहुल को गिरफ्तार कर घटना में प्रयुक्त आला कत्ल वाहन कार बैगनार न०- UA06 E 6212 व लूटे गये 35,000/- रुपये बरामद किये गये। उच्चाधिकारीगण द्वारा पुलिस टीम के उत्तसाह वर्धन व व सफल अनावरण के लिए पुलिस टीम को नगद ईनाम की घोषणा की गयी।
 घटना अनावरण के तथ्य – मृतक अंकित रस्तोगी कबाड़ के दुकान चलाने का काम करता था करीब एक माह पूर्व मृतक अंकित रस्तोगी ने सुनार की दुकान 30-40 लाख रुपये सोना चांदी की लागत लगाकर खोली थी। अभियुक्त रानू रस्तोगी पुत्र अनिल रस्तोगी मृतक अंकित रस्तोगी का मित्र था जो कि लगातार मृतक के सम्पर्क में रहता था व घर में आना जाना व घर की स्थिति से बाखूबी वाकिफ था। रानू रस्तोगी की मुलाकात दूसरे अभियुक्त सचिन सक्सेना से हुई जो कि शातिर किस्म का गैंगस्टर अपराधी है इनके द्वारा अपने दो अन्य साथी विवेक वर्मा और मुकेश वर्मा के साथ मिलकर आपराधिक षड्यन्त्र रचकर 28 दिसम्बर को लूट और डकैती करने के उद्देश्य से मृतक अंकित रस्तोगी व उदित रस्तोगी को किसी बहाने से घर से बाहर बुलाकर देवा नदी के किनारे ग्राम सिद्धानवदिया ले जाकर डंडे व रोड से वार करते हुए घायल कर दिया व सर्जिकल ब्लेड से अंकित व उदित रस्तोगी के गले रेतकर निर्मम हत्या कर दी गयी इसके उपरान्त अभियुक्तगण मृतक के घर पर पहुंचें व मृतक की माँ आशा देवी व नानी सन्नो देवी की हंसिये से गले रेतकर निर्मम हत्या करते हुए दुकान से करीब 40,000/- रुपये लूट कर ले गये परन्तु अभियुक्तगण सुनार की दुकान में लाँकर खोल व तोड़ नहीं पाये और मौके से फरार हो गये। इसके अतिरिक्त मास्टर अखिलेश की भूमिका के सम्बन्ध में जांच की जा रही है।
 गिरफ्तार अभियुक्त
1- रानू रस्तोगी पुत्र अनिल रस्तोगी उम्र 24 वर्ष निवासी गुरुद्वारा रोड नानकमत्ता*
2- विवेक वर्मा पुत्र ओमप्रकाश वर्मा उम्र 19 वर्ष निवासी सुभाष कालोनी रुद्रपुर
3- मुकेश शर्मा उर्फ राहुल रस्तोगी पुत्र तुलसी राम उम्र 23 वर्ष निवासी सुभाष कालोनी
 फरार अभियुक्त
1- सचिन सक्सेना पुत्र स्व0 राजकुमार सक्सेना नि० सिंह कालोनी खटीमा
रुद्रपुर
आपराधिक इतिहास अभियुक्तगण आपराधिक इतिहास की जानकारी की जा रही है।
 बरामदगी
 वैगनार कार UA06 E 6212, आला कत्ल,लूटे हुए 35000/- रुपये
 पुलिस टीम – कुल 20 टीम
(cctv देखने हेतु 10 टीम,  पूछताछ 03 टीम, बाहरी जनपद 02 टीम, स्थानीय सुरागरासी 02 टीम,  साक्ष्य संकलन 02 टीम, सीडीआर विश्लेषण 01)
A- पूछताछ हेत टीम
 
श्रीमान् क्षेत्राधिकारी महोदय खटीमा के नेतृत्व में पूछताछ हेतु निम्न सदस्यों की टीम
1- निरीक्षक श्री प्रकाश सिंह दानू ( प्रभारी सितारगंज कोतवाली)
2- निरीक्षक श्री बसन्ती आर्या (ए.एच. टी.यू प्रभारी)
3. श्री के.सी. आर्य (थानाध्यक्ष नानकमत्ता)
4- श्री अशोक कुमार ( पुलिस कार्यालय)
5- उ.नि. नीमा बोरा
6-उ.नि. मंजू पंवार
7- कानि. मतलूब खान (एसओजी चम्पावत)
8- कानि. प्रकाश आर्या
9- म.का. प्रियंका कोरंगा
10- म.का. प्रियंका
B- स्थानीय स्तर पर सुरागरसी पतारसी हेतु टीम
 टीम 1
1-उ.नि. श्री कमलेश भट्ट (प्रभारी एसओजी)
2- उ.नि. श्री जावेद मलिक
3- कानि. बोविन्दर
4- कानि. नवनीत
5. कानि. मोहित
 6- कानि. आसिफ हुसैन
7- कानि. दिनेश चन्द्र
 टीम 2
बाहरी जनपद स्तर पर सरागरसी पतारसी हेतु टीम
1- उ.नि. श्री विनोद जोशी (थानाध्यक्ष दिनेशपुर)
2- उ.नि. श्री पंकज कुमार ( चौकी इंचार्ज लालपुर)
13- कानि. कुलदीप सिंह
 4- कानि. ललित चौधरी
C- सीडीआर विश्लेषण हेत टीम
 1- कानि. कैलाश तोमक्याल (एसओजी काशीपूर)
2- कानि. भूपेन्द्र आर्या ( एसओजी रुद्रपुर )
D- सीसीटीवी कैमरा देखने हेतु टीम
आपरेशन क्षेत्राधिकारी महोदय श्री परवेज अली व निरीक्षक श्री नरेश चौहान (प्रभारी निरीक्षक खटीमा) के नेतृत्व में निम्न सदस्य टीम
1- उ.नि. श्री विद्यादत्त जोशी (थानाध्यक्ष आईटीआई)
2- उ.नि. श्री कमाल हसन (प्रभारी एडीटीएफ)
3- उ.नि. श्री दिनेश फर्त्याल ( थानाध्यक्ष झनकईया) सितारगंज)
4- उ.नि. श्री योगेश कुमार (एसएसआई 5-30नि0 श्री शंकर सिंह बिष्ट
6- उ.नि. श्री विजेन्द्र कुमार
7- उ.नि. श्री सुरेन्द्र सिंह ( एसओजी)
8- उ.नि. श्री पंकज महर
9- उ.नि. श्री राजेश पाण्डेय (प्रभारी पुलभट्टा )
10- कानि. कमल नाथ गोस्वामी
11- कानि. पंकज बिनवाल ( एसओजी)
12- कानि. नासिर
13- कानि. धर्मवीर
14- कानि. ललित कुमार
(एसओजी)
15- कानि. गणेश पाण्डेय (एसओजी)
16- कानि. नीरज शुक्ला (एसओजी)
17- कानि. प्रमोद कुमार (एसओजी)
18-कानि. विनोद (एसओजी)
 19- कानि. भूपेन्द्र (एसओजी)
20- क.नि.  ध्यान सिंह
 E- पंचायतनामा, साक्ष्य संकलन व कार्यलेख टीम के सदस्य
1- कानि. गिरीश चन्द्र
2- कानि. योगेन्द्र कुमार
 3- कानि. ललित काण्डपाल
4- कानि. नरेन्द्र रोतेला
5- कानि. रमेश भट्ट
6- कानि मोहन गिरी
7- कानि. देवेन्द्र
8- कानि. लोकेश तिवारी
9- कानि. सुरेश कुमार
10- कानि. राजेश कुमार
 11-म.का. कमला दुग्ताल
12-म.का. विद्या रानी
13- म.का. बीना
14 म.का. शिवन्ती
 15- कानि. विनित
16- कानि. राजकुंवर
 17- कनि. चालक प्रकाश जोशी
18- फालवर पूरन चन्द्र ग्राम प्रहरी राजकुमार शुक्ला, गुरमेज, मिल्खा, पीआरडी राजवती, गोविन्द (सहयोगी)
Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

More in उत्तराखंड

Trending News

Like Our Facebook Page