उत्तराखंड के नए डीजीपी बने अशोक कुमार के सामने सबसे बड़ी चुनौतियां .

Advertisement

रिपोर्ट-राहुल सिंह दरमवाल

 

उत्तराखंड पुलिस के लिए आज बहुत ही अहम और खास दिन है क्योंकि उत्तराखंड पुलिस को आज नया मुखिया मतलब डीजीपी मिला है आज उत्तराखंड के नए डीजीपी अशोक कुमार ने पदभार ग्रहण किया और उत्तराखंड राज्य पुलिस के मुखिया के रूप में अशोक कुमार की तैनाती हुई है वैसे तो अशोक कुमार काफी उत्तराखंड की जनता के साथ ही साथ कई लोगों की चाहत के रूप में सुमार है
उत्तराखंड राज्य पुलिस के नए डीजीपी अशोक कुमार ने आज पुलिस मुख्यालय में कार्यभार ग्रहण कर लिया है।निवर्तमान डीजीपी अनिल रतूड़ी ने अपना कार्य भार नए डीजीपी अशोक कुमार को सौप दिया है।उत्तराखंड पुलिस को सबसे ज्यादा उम्मीदें अशोक कुमार से है

सोशल मीडिया से लेकर के मीडिया जगत में अशोक कुमार की एक अलग ही पहचान है क्योंकि अशोक कुमार लगातार फील्ड में कार्य करने के साथ ही साथ छोटी-बड़ी हर जिले हर शहर की घटनाओं पर विशेष ध्यान देते हैं अभी तक अशोक कुमार लॉयन ऑर्डर डीजी के पद पर उत्तराखंड में तैनात थे इससे पहले अशोक कुमार कई जिलों में कार्यभार संभाल चुके हैं हालांकि उनके सामने डीजीपी बनने के बाद कई सारी चुनौतियां उनके सामने है उत्तराखंड में बढ़ता हुआ नशा उत्तराखंड की सीमाएं नेपाल और चीन से भी मिलती है ऐसे में पुलिस की एक अहम भूमिका देखी जाती है
अशोक कुमार को उत्तराखंड में बढ़ता हुआ नशा के साथ-साथ इंटरनेशनल सीमाएं और अंतर राज्य सीमा पर बढ़ता हुआ क्राइम और अन्य राज्यों से उत्तराखंड में पहुंचता हुआ नशे का बड़ा कारोबार एक बड़ी चुनौती खड़ी करता है ऐसे में देखना होगा कि आने वाले समय में इन अपराधों में डीजीपी अशोक कुमार किस तरह से रोक लगाते हैं और नशा और क्राइम के ग्राफ को तेजी से कम करने में इतने सफल हो पाते हैं हालांकि इससे पहले कई पदों में तैनात रहने के बाद डीजीपी से पहले लॉयन ऑर्डर में डीजे के पद पर तैनात रहते हुए उन्होंने प्रदेश में काफी अच्छी पुलिसिंग का कार्य किया है नई जिम्मेदारियों के साथ नई समस्याएं और नई चुनौतियां अशोक कुमार कैसे बखूबी निभाते हैं यह तो आने वाला समय ही बताएगा.

Spread the love
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed