वास्तविक जनसरोकारों से जुड़कर कार्य में लगे मनोज पाठक, जनता का दिख रहा है भारी भीड़ की उपस्तिथी से भरपूर ससमर्थंन

Advertisement

रिर्पोट- राहुल सिंह दरम्वाल /////

उत्तरांचल उत्थान परिषद के द्वारा चकलुआ में आत्मनिर्भर भारत को लेकर जिन महिलाओं ने बढ़ चढ़कर भाग लिया और अपने साथ ही और महिलाओं को महिला शक्ति और रोजगार से जोड़कर आगे चलने का प्रयत्न किया है उन्हें मनोज पाठक लगातार सम्मानित कर रहे हैं साथ ही मनोज अपने अलग-अलग प्रयासों से महिला समूह को मदद पहुंचाने में भी जुटे हैं उनके खाद्य पदार्थों और बनाए हुए उपकरणों को मनोज बाजार तक पहुंचाने के बारे में राय मशवरा और खुद भी इसे बाजार और इधर दूर-दूर तक भिजवाने का कार्य कर रहे है।

मनोज पाठक  ने कहा भारत देश के माननीय प्रधानमंत्री मोदी जी द्वारा मात् शक्ति के स्वावलम्बन हेतु जो दिव्य स्वप्न देखा है उसे चकलुआ क्षेत्र की महिलाओं के जज्बे को देखकर यह सिद्ध होता दिखाई दे रहा है , महिला समूहों से जुड़कर विभिन्न कार्यक्रमों को संचालित करने हेतु स्वरोज़गार के क्षेत्र में महिलाओं को आगे आने का आवाहन करते हुए कहा कि मोदी जी ने ‘ आत्मनिर्भर भारत ‘ की महत्वाकांक्षी योजना को धरातल पर उतारने के लिये तीरथ सरकार मिलकर प्राण और प्रण से छोटे उद्योगों की स्थापना , समूहों को कार्य करने हेतु प्रोत्साहित करने हेतु ३ लाख , ५ लाख तक क्षण देकर मेहनत से कार्य कर रही है।उन्होंने कहा कि महिला शक्ति को बढ़ाने एवं उनके सम्मान हेतु जिनकी बेटियाँ ही बेटियाँ है उन्हें भी आज सम्मानित किया जा रहा है।


कार्यक्रम में सभी अतिथियों का विदरामपुर के सम्मानित प्रधान वीरेन्द्र देवपा जी के स्वागत करते हुए आभार व्यक्त किया तथा श्री कैप्टन सिंह देवपा ,मोहन खोलिया, रमेश सेनी प्रधान भागीरथी देवपा, प्रधान पीपलपोखरा मीना  ,पूजा रानी प्रधान रामपुर चकलुआ, बिमला बसेरा षसटी बल्लभ जोशी , भगवंत अधिकारी महेंद्र सामंत संजय बौरा आदि इस  मौके पर मौजूद रहे साथ ही  सैकड़ों महिलाओं ने इस कार्यक्रम में भाग लिया
महिला सशक्तिकरण हेतु चलाये जा रहे मनोज पाठक भाजपा नेता द्वारा किए जा रहे प्रयासों को जमकर प्रशंसा की और कहा कि राजनीतिक की दिशा और सही दशा को मनोज पाठक द्वारा जिस मेहनत लगन एवं निष्ठा से निस्वार्थ अपने आपको समर्पित किया है वह वंदनीय सराहनीय तथा सर्वत्र प्रशंसनीय है वही महिला समूहो की सदस्यों ने उत्साहित होकर कहा कि यह कार्यक्रम महिलाओं के लिए सम्मान और आत्मनिर्भर बनाएगा ।

Spread the love
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed