साइबेरियन पक्षियों की ड्रोन कैमरे से निगरानी

Advertisement
 रिपोर्ट – संजय सिंह कडाकोटी 
बर्ड फ्लू की दस्तक और बढ़ते मामलों  से वन विभाग की चिंता बढ़ गई है। इसी को लेकर प्रवासी पक्षियों के साथ ही स्थानीय पक्षियों पर वन विभाग की टीम लगातार  ड्रोन से रख रहा है नज़र।
देश में कई राज्यों में बर्ड फ्लू अपने पैर पसार चुका है, जिसमें कई पक्षियों की अब तक मौत हो चुकी है। वही उत्तराखंड में भी बर्ड फ्लू तेजी से पैर पसार चुका है। जिसमें कोटद्वार,देहरादून व अन्य कई क्षेत्रों में  पक्षियों के मरने के कई मामले सामने आ चुके हैं। जिससे वन विभाग की चिंता भी बढ़ गयी है,जिसके बाद  वन विभाग ने इसको लेकर एक एडवाइजरी जारी कर दी है।जिसमें वन विभाग ने सभी अधिकारियों को आदेश दिए हैं कि अपने-अपने क्षेत्रों में जिन क्षेत्रों में प्रवासी पक्षी माइग्रेट करते है,उन क्षेत्रों में लगातार उन पर पैनी नज़र रखे।
 इसी को लेकर आज रामनगर के कोसी बैराज में वन विभाग की टीम ने ड्रोन के माध्यम के साथ ही पैदल गस्त की जिसमें साइबेरियन पक्षियों पर पैने नजर रखी। वहीं इस विषय में ज्यादा जानकारी देते हुए रेंज अधिकारी ललित जोशी ने बताया कि भारत सरकार की एडवाइजरी के तहत इसको लेकर जिन क्षेत्रों में प्रवासी पक्षी पहुंचे उन क्षेत्रों में लगातार सुबह शाम गस्त की जा रही है ,साथ ही जो दलदली क्षेत्र हैं जिनमें विभाग की टीम निरक्षण नहीं कर पा रही है,उन क्षेत्रों में ड्रोन से भी नजर रखी जा रही है। कि कहीं कोई पक्षी मरा पढ़ा हुआ तो नहीं है। साथ ही उन्होंने बताया कि इस क्षेत्र में अभी तक ऐसे कोई लक्षण नहीं पाए गए हैं, सारी स्थिति सामान्य है। रामनगर के मुख्यतः कोसी जलाशय जिसमें माइग्रेटिंग  सुखार्भ पक्षी प्रतिवर्ष आती है और काफी संख्या में एकत्रित होती है और यह क्षेत्र संवेदनशील है, इसी को लेकर हमारे द्वारा कोसी जलाशयों पर लगातार पैनी नजर रखी जा रही है।
Spread the love
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *