शहद में हो रही है मिलावट आपके परिवार की सेहत से खिलवाड़

Advertisement

रिपोट:- राहुल सिंह दरम्वाल –

 

देश के तमाम बड़े छोटे ब्रांड के शहद में मिलावट की चौंकाने वाली तस्वीर सामने आई है सेंटर फॉर साइंस एंड एनवायरमेंट (सीएसई) ने पाया है कि ज्यादातर कंपनियों के शहर में चाइनीज शुगर सिरप यानी चीनी का घोल

मिलाया जाता है सीएसई में 13 कंपनियों के शहद के नमूनों को जांच कराई जिसमें से 77 फ़ीसदी में मिलावट पाई गई शहर के नमूनों की जांच पहले गुजरात के राष्ट्रीय डेयरी विकास बोर्ड एनडीडीबी के सेंटर फॉर एनालिसिस एंड लर्निंग इन लाइव स्टॉक एंड फूड सीएएलफ यहां सभी बड़ी कंपनियों के नमूने पास हो गए जबकि कुछ छोटी कंपनियों के नमूने फेल हो गए जब इन्ही सैंपल को जर्मनी स्थित प्रयोगशाला में अंतरराष्ट्रीय स्तर पर स्वीकार्य  न्यूक्लियर मैग्नेटिक रेजोनेंस (एनएमआर )परीक्षण के लिए भेजा गया तो लगभग सभी बड़े छोटे  विफल हो गए परीक्षण में शामिल तेरा ब्रांड में केवल तीन यहां परीक्षण में सफल रहे
हर घर घर परिवार में अक्सर शहर का इस्तेमाल किया जाता है बच्चे बूढ़े जवान हर उम्र के लोगों और पूजा सामग्री से लेकर के शुभ कार्य में शहद का इस्तेमाल भारत में अक्सर किया जाता है मधुमक्खी से बनाए गए शहद को शुद्ध शहद माना जाता है जिसके लिए सरकारें भी लगातार मौन पालन (मधुमक्खी) 
 पालन के लिए लोगों को प्रेरित करती है लेकिन एक चौंकाने वाली रिसर्च सामने आया है जिसमें बाजार से लिए जाने वाले अधिकतर शहर में मिलावट देखी गई है और अधिकतर कंपनियों के शहर में मिलावट चीन से पहुंचती है हालांकि चीन को चाइनीस आइटम और अन्य चीजों में भी कई बार मिलावटी सामान और नकली फ्रूट प्रोडक्ट बनाने का सबसे बड़ा बाजार चीन ही है
Spread the love
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *