सैकड़ों बेरोजगार युवाओं के भविष्य से खिलवाड़ / अब लड़ाई में  सुमित हृदयेश 

Advertisement
रिपोर्ट – राहुल सिंह दरम्वाल /
कुछ समय पहले  युवाओं ने नेता सुमित हृदयेश के नेतृत्व में कंपनी प्रबंधन को ज्ञापन देकर शीघ्र समाधान की मांग की थी लेकिन कोई समाधान नही होने पर आज फिर उक्त युवाओं ने युवा कांग्रेस नेता सुमिर हृदयेश से हल्द्वानी में मुलाकात कर आगे की रणनीति पर गहन चर्चा की। चर्चा के उपरांत सभी ने  कंपनी प्रबंधन और NTTF संस्था द्वारा की गयी धोखाधड़ी और वादाखिलाफी के खिलाफ 420 का मुकदमा दर्ज करवाने की बात कही।
बैठक के उपरांत सैकड़ो की संख्या में धोखाधड़ी के शिकार युवाओं ने सुमित हृदयेश (सदस्य, AICC और PCC)  के नेतृत्व में पंतनगर थाना पहुँच पुलिस प्रशासन से शांतिपूर्वक गाँधीवाधी तरीके से थाना प्रभारी जी को अपनी पीढ़ा से अवगत कराया और बताया कि आशिर्वाद योजना के नाम पर उन्हें जो डिप्लोमा दिया गया वो पूर्ण रूप से अवैध है इस डिप्लोमा को राज्य या केंद्र सरकार की किसी यूनिवर्सिटी से मान्यता नही है और ना ही AICTE से मान्यता है।
तथा उनके मूल शैक्षिक प्रमाण पत्र जमा करवाकर उनको कही और जाने से रोका गया और अब उनको कंपनी से बाहर का रास्ता दिखाकर मझधार मे छोड़ दिया गया है। इस दौरान हरीश पनेरू (प्रदेश महासचिव उत्तराखंड कांग्रेस) जी ने अपनी ओर से उक्त विषय पर धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज करवाने के लिये प्राथमिकता दर्ज करवायी।
सुमित हृदयेश जी ने कहा कि वे उत्तराखंड की जवानी को यू बर्बाद होते नही देख सकते। रोजगार के नाम पर युवाओं को छलने वालो के खिलाफ हर प्रकार की लड़ाई में वें सबसे आगे खड़े रहेंगे। सुमित हृदयेश  ने  शासन प्रशासन को इस मामले की गंभीरता को देखते हुवे शीघ्र अति शीघ्र कठोर कार्यवाही कर शोषित युवाओं को न्याय दिलवाने की बात कही।
हरीश पनेरू  ने तहरीर के माध्यम पुलिस प्रशासन से से धोखाधड़ी के शिकार बच्चो  के लिये न्याय की मांग की। भविष्य की सुरक्षा यानी रोजगार की इस लड़ाई में सहयोग देकर मनोबल बढ़ाने के लिए सभी युवाओं ने सुमित हृदयेश, हरीश पनेरू, वरुण प्रताप सिंह भाकुनी, मदन मोहन जोशी, गुरप्रीत सिंह प्रिंस, हेमन्त साहू, प्रदीप नेगी, लाल सिंह पवार, ओंकार सिंह ढिल्लो, हर्षित जोशी, संजय रावत, रविंद रावत, जिज्ञासु भट्ट,
देवेंद्र नेगी, योगेश उपाध्याय, करन अरोड़ा का धन्यवाद दिया।
Spread the love
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *