Connect with us
Advertisement

दिल्ली

बढते कोरोना संक्रमण को देखते हुए पीएम मोदी शाम 4.30 बजे करेंगे हाई लेवल मीटिंग।

Newsupdatebharat Uttarakhand Delhi News Desk

दिल्ली –  देश में कोरोना की तीसरी लहर आक्रमक हो रही है। लगातार तेजी से बढ़ते मामलों को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को सभी अफसरों की इमरजेंसी मीटिंग बुलाई है। पीएम मोदी शाम 4.30 बजे की मीटिंग में देश में तेजी से फैल रहे कोरोना के हालात की समीक्षा करेंगे। साथ ही तीसरी लहर को लेकर तैयारियों का जायजा भी लेंगे। देश में पॉजिटिविटी रेट 10 से ऊपर निकल चुका है। ऐसे में पीएम मोदी संक्रमण को रोकने के लिए लॉकडाउन जैसे सख्त कदम उठाने के निर्देश भी दे सकते हैं।

इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 22 दिसंबर और 26 नवंबर को कोरोना के हालात की समीक्षा की थी। दोनों ही मीटिंग में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने टेस्टिंग, ट्रैकिंग और ट्रीटमेंट पर जोर दिया था। उन्होंने दवाइयों और ऑक्सीजन की उपलब्धता हेतु भी निर्देश दिए थे।

प्रधानमंत्री मोदी ने 22 दिसंबर को देश में कोरोना के ओमिक्रॉन वैरिएंट को लेकर अफसरों के साथ हाई लेवल रिव्यू मीटिंग की थी। करीब एक घंटे चली इस मीटिंग में हेल्थ मिनिस्ट्री समेत कई विभागों के अफसर शामिल हुए थे। प्रधानमंत्री ने हालात की जानकारी लेने के साथ सरकार की तैयारियों का जायजा लिया था। साथ ही उन्होंने अफसरों को दवाई और ऑक्सीजन का स्टॉक बढ़ाने के निर्देश भी दिए थे। साथ ही टेस्टिंग और ट्रेसिंग बढ़ाकर हेल्थ इन्फ्रास्ट्रक्चर बेहतर करने पर भी जोर दिया था। और  मीटिंग में रिमोट एरिया में वैक्सीन और दवा की सप्लाई के लिए IT टूल्स का ज्यादा से ज्यादा उपयोग करने को कहा था। पीएम मोदी ने अफसरों से कहा था कि राज्यों के लिए यह सुनिश्चित करना महत्वपूर्ण है कि ऑक्सीजन सप्लाई इक्विपमेंट्स पूरी तरह काम कर रहे हों। इसमें किसी भी तरह की कोताही, असावधानी नहीं होनी चाहिए।

दुनियाभर में ओमिक्रॉन वैरिएंट की शुरुआत होते ही पीएम मोदी ने 26 नवंबर को अफसरों की मीटिंग बुलाकर इंटरनेशनल ट्रैवल में छूट देने की प्लानिंग पर दोबारा विचार करने को कहा था। साउथ अफ्रीकन वैरिएंट को लेकर मोदी ने कुछ हिदायतें दी थीं

  • नए वैरिएंट से निपटने के लिए तैयारी की जरूरत।
  • जिन इलाकों में ज्यादा केस आ रहे हैं, वहां पर निगरानी और कंटेनमेंट जैसी सख्ती।
  • लोगों को ज्यादा सतर्क होने की जरूरत, मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन।
  • अंतरराष्ट्रीय यात्राओं में छूट देने की योजना की समीक्षा।
  • कोरोना वैक्सीन की दूसरी डोज की कवरेज बढ़ाने पर फोकस ।
  • राज्य ध्यान रखें कि जिन्हें पहली डोज मिल गई है, उन्हें दूसरी डोज समय पर दे दी जाए।

देश में कोरोनावायरस महामारी की तीसरी लहर में संक्रमण का आंकड़ा कुछ दिनों में ही डेढ़ लाख को पार कर गया है। 24 घंटे में संक्रमण के 1 लाख 59 हजार 424 केस सामने आए हैं और 327 लोगों की मौत हुई है। आज 40,000 से ज्यादा लोग रिकवर भी हुए हैं।

देश में अब तक 3.55 करोड़ लोग महामारी की चपेट में आ चुके हैं। वहीं ठीक होने वालों का आंकड़ा 3.44 करोड़ है। देश में अभी कुल एक्टिव केस का आंकड़ा 5 लाख 84 हजार 580 है।

देश में ओमिक्रॉन के मामले भी काफी तेजी से बढ़ रहे हैं। पिछले 24 घंटे में 552 नए मरीज सामने आए हैं। इसके साथ ही देश में ओमिक्रॉन के कुल मरीजों की संख्या 3,623 हो गई है। वहीं, इस वैरिएंट से संक्रमित 1,409 मरीज ठीक भी हो चुके हैं।

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

More in दिल्ली

उत्तराखण्ड

उत्तराखण्ड

Trending News

Like Our Facebook Page