वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से पीएम मोदी ने 6 राज्यों के सीएम से की मीटिंग। कोविड -19 की स्थिति पर की चर्चा।

Advertisement

 

Newsupdatebharat/ Report News Sources

दिल्ली – प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को 6 राज्यों के मुख्यमंत्रियों से कोविड संक्रमण की स्थिति पर चर्चा की है। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए मीटिंग हुई। इस मीटिंग में महाराष्ट्र, कर्नाटक, आन्ध्रप्रदेश, तमिलनाडु, केरल और ओड़िशा के मुख्यमंत्री शामिल हुए। इस चर्चा में गृह मंत्री अमित शाह भी मौजूद रहे। इस चर्चा में मोदी ने कहा, ‘हमें टेस्ट, ट्रैक, ट्रीट और टीके पर बहुत ध्यान देना होगा। जिन-जिन राज्यों में केस बढ़ रहे हैं, उन्हें प्रोएक्टिव मेजर लेते हुए तीसरी लहर की आशंका को रोकना होगा।’

 

पीएम मोदी ने कहा कि शुरुआत में विशेषज्ञ का मानना था कि जहां से सेकंड वेव की शुरुआत हुई थी, वहां स्थिति पहले नियंत्रण में होगी। लेकिन महाराष्ट्र और केरल में कोरोना के मामलों में इजाफा देखने को मिल रहा है। यह वाकई में हम सबके लिए और देश के लिए गंभीर चिंता का विषय है।

पीएम कहा कि एक्सपर्ट्स बताया कि लंबे समय तक केस बढ़ने से कोरोना के वायरस में म्यूटेशन की आशंका बढ़ जाती है, जिससे नए वायरस का खतरा और बढ़ जाता है। इसलिए तीसरी लहर को रोकने के लिए ठोस कदम उठाने जरूरी हैं। इन हालातों में वही करना है, जो पहले राज्य कर चुके हैं। टेस्टेड एंड प्रूवन मेथर्ड है।’

पीएम मोदी ने राज्यों को सलाह दी, कि माइक्रो कंटेनमेंट जोन पर तेजी से काम करना होगा। जहां केस ज्यादा आ रहे हैं, वहां निगरानी भी ज्यादा होनी चाहिए।  पीएम मोदी ने कहा कि जब नॉर्थ ईस्ट के मुख्यमंत्रियों से बात की तो पता चला कि कुछ राज्यों ने लॉकडाउन ही नहीं किया, वहां माइक्रो कंटेनमेंट जोन पर ध्यान दिया गया।

पीएम मोदी ने कहा कि देश के सभी राज्यों में नए आईसीयू बेड बनाने, टेस्टिंग क्षमता बढ़ाने और अन्य सभी जरूरतों के लिए फंड उपलब्ध कराया जा रहा है। केंद्र सरकार ने हाल ही में 23 हजार करोड़ से ज्यादा का इमरजेंसी कोविड फंड जारी किया है। इसका उपयोग हेल्थ इन्फ्रास्ट्रक्चर को बेहतर और मजबूत करने के लिए किया जाना चाहिए। खासतौर पर ग्रामीण स्तर पर ज्यादा मेहनत करने की जरूरत है।

कोविड 19  संक्रमण को लेकर पीएम मोदी की यह दूसरी बैठक है। इससे पहले मंगलवार को मोदी ने उत्तर-पूर्वी राज्यों के मुख्यमंत्रियों से मीटिंग कर चर्चा की थी। चर्चा के दौरान पीएम मोदी ने माइक्रो लेवल पर कड़े कदम उठाने की सलाह दी थी। आपको बता दें कि शुक्रवार को पीएम मोदी ने जिन 6 राज्यों के मुख्यमंत्रियों से मीटिंग कर चर्चा की है उन राज्यों में कोरोना संक्रमण के एक्टिव केस करीब 80% तक है।

 

 

Spread the love
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *